Homeवीडियो

आरती श्री रामायण जी की || Aarti Shri Ramayan Ji ki 2021 Version || Dharm TV

आरती श्री रामायणजी की, एक हिंदी भक्ति आरती है जिसे भगवान राम की स्तुति में गाया जाता है। रोशनी के हिंदू त्योहार दीपावली (जिसे दिवाली भी कहा जाता है) के दौरान भक्त इस आरती को गाते हैं।

हनुमान जी की आरती

आरती श्री रामायणजी की, एक हिंदी भक्ति आरती है जिसे भगवान राम की स्तुति में गाया जाता है। रोशनी के हिंदू त्योहार दीपावली (जिसे दिवाली भी कहा जाता है) के दौरान भक्त इस आरती को गाते हैं। आरती – पूजा का एक हिंदू धार्मिक अनुष्ठान, देवता की स्तुति में गाए जाने वाले गीतों को संदर्भित करता है जब दीपक चढ़ाए जाते हैं। भक्त गहरी श्रद्धा और आराधना के साथ आरती गाकर भगवान के प्रति अपने पूर्ण और अडिग प्रेम का इजहार करते हैं।

आरती श्री रामायण जी की

आरती श्री रामायण जी की,
कीरति कलित ललित सिय पी की॥

गावत ब्रह्मादिक मुनि नारद,
बालमीक बिग्यान-बिसारद।
सुक सनकादि सेष अरु सारद,
बरनि पवनसुत कीरति नीकी॥
आरती श्री रामायण जी की ……

गावत बेद पुरान अष्टदस,
छहो सास्त्र सब ग्रन्थन को रस।
मुनि जन धन संतन को सरबस,
सार अंस संमत सबही की॥
आरती श्री रामायण जी की ……

गावत संतत संभु भवानी,
अरु घटसंभव मुनि बिग्यानी।
ब्यास आदि कबिबर्ज बखानी,
काकभुसुंडि गरुड के ही की॥
आरती श्री रामायण जी की ……

कलि मल हरनि विषय रस फीकी,
सुभग सिंगार मुक्ति जुबती की।
दलन रोग भव मूरि अमी की,
तात मात सब बिधि तुलसी की॥

आरती श्री रामायण जी की
कीरत कलित ललित सिय पिय की।।

आरती श्री रामायण जी की ……

COMMENTS

WORDPRESS: 0